Panchgavya Healthcare India

जब तक गाय को उसकी उपयोगिता के आधार पर मापा जायेगा, तब तक वास्तविक गौ रक्षा नहीं होगी | गौ का प्रश्न हमारी आस्था के साथ जुड़ा है | हमारे धर्म-कर्म, लोक-परलोक और जन्म-मरण की सहायिका गौ माता है | हमारी संस्कृति, सभ्यता और सनातन आस्था का प्रतीक गौ माता है | गौ माता की रक्षा के लिए यथा शक्ति प्रयत्न करेंगे | गोवंश की हिंसा से प्राप्त चर्म, औषधियों एवम् सौंदर्य प्रसाधनो का उपयोग नहीं करेंगे | गौ दुग्ध एवम् गौ घृत को दैनिक जीवन का अंग बनाकर गौरक्षा के साथ - साथ जीवन का परम लाभ प्राप्त करने की और अग्रसर होंगे | उसे उसके सम्मानीय पद पर प्रतिष्ठित करने का संकल्प ले तभी हम अपनी माँ के लाल है |

Content

Make Donation